साप्ताहिक राशिफल: आपका सप्ताह कैसा रहेगा

साप्ताहिक राशिफल: इस राशि के लोग सेहत का रखें ख्याल; आपका सप्ताह कैसा रहेगा 

इस सप्ताह आने वाली अमावस्या बताती है कि किन राशियों को देखना चाहिए। साप्ताहिक राशिफल पढ़ें…

आज जुलाई का पहला रविवार है। दिनांक 4 जुलाई। वरिष्ठ कृष्ण दशमी। आइए जानें साप्ताहिक राशिफल।

इस सप्ताह गुरु कुम्भ राशि में वक्री अवस्था में है और शनि मकर राशि में भ्रमण करेगा। 7 जुलाई को मंगल और शुक्र कर्क राशि में होंगे और बुध मिथुन राशि में रहेंगे। वहां वह सूर्य के साथ सूर्य बुधादित्य योग करेंगे। इस सप्ताह गुरु सूर्य नवपंचम योग कर रहे हैं। राहु वृष राशि में और केतु वृश्चिक राशि में होगा। 10 जुलाई को अमावस्या मिथुन राशि में होगी। आइए उपरोक्त सभी ग्रहों की स्थिति के अनुसार इस सप्ताह का साप्ताहिक राशिफल देखें।

साप्ताहिक राशिफल:04 जुलाई 2021 से

मेष

सप्ताह की शुरुआत में मनभावन ग्रहमान हैं। सूर्य बुध तीसरे स्थान पर राजयोग कारक और शक्ति में वृद्धि करेगा। वहीं रवि बुध और शनि के साथ षडाष्टक योग कर रहे हैं। चौथे स्थान में मंगल और शुक्र घरेलू सामान की मरम्मत, या नया खरीदने की इच्छा रखने वाले होंगे। धार्मिक कार्य होंगे। पारिवारिक सुख मिलेगा। आर्थिक स्थिति अच्छी बनी रहेगी। उत्तरार्द्ध अमावस्या के प्रभाव से परेशान रहेगा। बहनें भाई-बहनों की देखभाल करेंगी। लेकिन गुरु कृपा सभी समस्याओं का समाधान करेंगे।

वृषभ

सप्ताह की शुरुआत में केंद्र राशि में चंद्रमा बृहस्पति के साथ योग करेगा। कार्य सफल होंगे। बुध का धनस्थान में आना आपको सुखी और समृद्ध बनाएगा। तृतीय मंगल शुक्र का प्रभाव क्षेत्र आपके पराक्रम में वृद्धि करेगा। धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। कार्यक्षेत्र से अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। लाभ होगा। धन, पारिवारिक स्थान में अमावस्या आर्थिक नुकसान या परिवार में व्यक्ति की चिंता का संकेत देती है। यात्रा योग नए व्यक्तियों की परिचितता का पूरक होगा। राहु का जाप करना चाहिए।

मिथुन

इस सप्ताह एक महत्वपूर्ण परिवर्तन बुध का राशि में प्रवेश है। स्वर में आने वाला बुध उच्च होगा और अच्छा फल देगा। आपकी बौद्धिक क्षमता का सम्मान होगा। वाणी चतुर होगी, विनती करेगी। धनस्थान में शुक्र और मंगल आर्थिक कारोबार में वृद्धि करेंगे। शेयर बाजार में उछाल आएगा, लेकिन सावधान रहें। 10 जुलाई की अमावस्या प्रकृति के मामले में सावधान रहने की सलाह देती है। भाग्य की स्थिति में गुरु संतान का कारक होता है। आठवें भाव में शनि चेतावनी दे रहा है। शनिवार के दिन पूजा और दान करें।

कर्क

अष्टम भाव में बृहस्पति, राशि में मंगल, शुक्र की स्थिति में शुक्र, सूर्य, शनि की स्थिति में बुध, सावधान कदम उठाने का सुझाव दें हल्के कैंसर वाले लोगों के लिए सप्ताह बहुत अनुकूल नहीं है। चोट, गिरने, बीमारी, क्षति से सावधान रहें। बेवजह कहीं जाने की हिम्मत न करें। पार्टनर से ज्यादा उम्मीद न रखें। बहस मत करो। अमावस्या के आसपास सभी पहलुओं का ध्यान रखना चाहिए। शनि निराशावादी स्वभाव की ओर ले जाएगा। भगवान को पूजो।

सिंह

दसवें चंद्र मास राहु योग के पूर्वार्ध में सिंह राशि वालों के लिए यह सप्ताह थोड़ा कठिन रहेगा। काम में मुश्किलें बढ़ेंगी, तनाव का भी ख़्याल रखना होगा। पैतृक संपत्ति को लेकर फैसला होगा।

नया चाँद थोड़ा भ्रमित करने वाला है। राशि स्वामी रवि बुध के साथ लाभ की स्थिति में है और शुभ फल देगी। आर्थिक नुकसान की संभावना के साथ शुक्र ग्रह मंगल, शनि के साथ प्रतिस्पर्धा में है। यह कुल मिला-जुला सप्ताह है। गुरु की पूजा करनी चाहिए।

कन्या

पहला भाग भाग्यशाली, इच्छाधारी सोच वाला है। उत्तरार्द्ध दस में रवि बुध कुछ नए अवसर प्रदान करेगा। शुक्र लाभ प्राप्त करने के लिए उत्सुक है। हालाँकि, अमावस्या पितृसत्तात्मक चिंता का विषय है। राहु भाग्य की स्थिति में पितृसत्तात्मक दोष पैदा करता है। संतान को लेकर चिंता, धार्मिक कार्यों में अरुचि का फल मिल सकता है। अमावस्या को कुछ दान करें। प्रकृति ठीक रहेगी। आर्थिक पक्ष अच्छा है। मिश्रित सप्ताह।

तुला 

सप्ताह के मध्य में मिथुन राशि में प्रवेश करने वाला बुध सूर्य के साथ भाग्य का द्वार खोलेगा। दशम भाव में शुक्र मंगल के क्षेत्र में बड़ी छलांग लगाएगा। पंचम गुरु संतान के लिए शुभ। अमावस्या के प्रभाव के क्षेत्र में सावधान रहें। राहु आठवें भाव में है। प्रकृति का ध्यान रखें। आर्थिक स्थिति ठीक रहेगी। घर में शांति भंग न करें। राहु की पूजा करें, जप करें।

वृश्चिक

इस सप्ताह वृश्चिक राशि के लोग काफी सावधान रहने वाले हैं। चंद्रमा का पहला भाग राहु के प्रभाव से मानसिक तनाव का प्रतिनिधित्व करता है। भ्रम होगा। यदि आपको कुछ पुराने रोग हैं, तो अमावस्या के आसपास दूर हो जाएंगे। सप्ताह के मध्य में पड़ने वाला बुध रवि पेट के रोग दिखा रहा है।

अत्यधिक श्रम से बचें। अपनी आवाज पर नियंत्रण रखें। यह मत कहो कि तुम्हारे भाई-बहन नाराज होंगे। घर में बुजुर्गों का ख्याल रखें। लेकिन परिवार आपका साथ जरूर देगा।

धनु

सप्ताह की शुरुआत थोड़ी धीमी रहेगी। हमें प्रकृति पर ध्यान देना होगा। सावधानीपूर्वक वित्तीय लेनदेन। शत्रु भाग गए होंगे। मिथुन राशि में बुध युगल को शुभ फल देने के लिए तैयार है। आठ ग्रह शारीरिक कष्ट का प्रतिनिधित्व करते हैं। अमावस्या के आसपास सावधानी का संकेत है। केतु धार्मिक रुचि बढ़ाने वाला है। अत्यधिक जिम्मेदारी, यात्रा संभव है।

मकर

इस सप्ताह रवि शनि षडाष्टक योग कर रहे हैं। प्रारंभिक चंद्र राहु योग संतान की चिंता का प्रतीक है। आर्थिक पक्ष गुरु महाराज संभालेंगे। जीवनसाथी को परेशान न करें इस बात का ध्यान रखें। अमावस्या के दौरान भगवान की पूजा करते रहें। बच्चों का ख्याल रखें। कुछ लोगों को अचानक गर्मी से होने वाली परेशानी का सामना करना पड़ेगा। सप्ताह मध्यम है।

कुंभ

यदि आप घर के लिए कुछ निर्णय लेना चाहते हैं तो सप्ताह का पहला भाग अच्छा है। मंगल कर्क राशि में निम्न स्थिति में है। उच्च रक्तचाप और मधुमेह वाले लोगों से सावधान रहें। किसी से भी ज्यादा बात करने से बचें। नेत्र विकार संभव है। शनि की पूजा करें मिथुन राशि में बुध संतान के लिए शुभ है। लेकिन अमावस्या के आसपास बच्चों का ध्यान रखें।

मीन

घर का आराम सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। ध्यान दें कि इस सप्ताह की अमावस्या उसे धक्का नहीं देगी। भाई-बहनों की कोई परेशानी हो, कोई सवाल हो तो उनकी मदद करनी चाहिए. कला के क्षेत्र में बड़ी प्रगति संभव है। धार्मिक कार्यों पर खर्च करना, तीर्थों की यात्रा करना संभवत: कार्य सिद्ध होगा। आर्थिक आयोजन होंगे। गुरु की पूजा करनी चाहिए।

 

News Hindi TV

Latest hindi News Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *