सावधानी! बरसात में मासिक धर्म के दौरान संक्रमण हो सकता है

सावधानी! बरसात के मौसम में मासिक धर्म के दौरान संक्रमण हो सकता है; ऐसे रखें ख्याल

मानसून के दौरान माहवारी के दौरान साफ-सफाई का ध्यान रखना ज्यादा जरूरी है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस दौरान संक्रमण की संभावना अधिक होती है।

नई दिल्ली, 25 जुलाई: बारिश में (मानसून) तापमान में बदलाव के प्रति आपकी प्रतिरोधक क्षमता (रोग प्रतिरोधक क्षमता) कम किया गया है। इस दौरान महिलाएं सफाई करती हैं (सफाई) अधिक ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि यह संक्रमण का समय है (संक्रमण) होने का भय अधिक होता है। मासिक धर्म के दौरान अत्यधिक स्वच्छता की आवश्यकता होती है। अस्वच्छता के कारण मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन) या योनि में संक्रमण। आइए जानें कि पीरियड्स के दौरान महिलाओं को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

नैपकिन बदलते रहें

ज्यादातर महिलाएं मासिक धर्म के दौरान अपने पैड लगातार नहीं बदलती हैं, हालांकि, बरसात के मौसम में बैक्टीरिया के संक्रमण का खतरा अधिक होता है। इसलिए पैड को हर 3 से 4 घंटे में बदलना चाहिए।

 

गिलापन से सावधान रहे

मासिक धर्म के दौरान आपका प्राइवेट पार्ट बहुत गीला रहता है। बारिश से मौसम में नमी भी बढ़ जाती है। शौचालय जाने या पानी का उपयोग करने के बाद भी प्राइवेट पार्ट को न सुखाएं। इससे क्षेत्र में नमी और बढ़ जाती है। जिससे संक्रमण हो सकता है। इसलिए टॉयलेट जाने या पानी का इस्तेमाल करने के बाद प्राइवेट पार्ट को टिश्यू पेपर की मदद से पूरी तरह से सुखा लें और फिर पैड का इस्तेमाल करें।

 

साबुन का प्रयोग न करें

मासिक धर्म के दौरान प्राइवेट पार्ट को साफ करने के लिए महिलाएं सादे साबुन का ही इस्तेमाल करती हैं। लेकिन, यह प्राकृतिक पीएच स्तर को खराब कर सकता है। वर्तमान में बाजार में ऐसे कई उत्पाद उपलब्ध हैं जो न केवल सफाई करते हैं बल्कि पीएच स्तर को भी ठीक रखते हैं।

 

गुनगुने पानी से धो लें

मासिक धर्म के दौरान रात को सोने से पहले अपने प्राइवेट पार्ट को गुनगुने पानी से साफ करें। फिर पैड का इस्तेमाल तभी करें जब टिश्यू पूरी तरह से सूख जाए। इससे संक्रमण की संभावना काफी कम हो जाती है।

 

सार्वजनिक शौचालय का प्रयोग न करें

माहवारी के दौरान सार्वजनिक शौचालयों का उपयोग नहीं करना सबसे अच्छा है। अगर आप इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सैनिटाइजर या टॉयलेट स्प्रे का इस्तेमाल करें। शौचालय का उपयोग करने से पहले फ्लश करें।

 

News Hindi TV

Latest hindi News Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *