यहाँ चूहों की जगह बिलों में रहते हैं लोग

यहाँ चूहों की जगह बिलों में रहते हैं लोग

नया दिल्ली, 28 अगस्त: चूहा (मूस) हम सभी जानते हैं कि वे बिलों में रहते हैं। हमने बचपन से ही चूहों को घर के अंदर या बाहर घूमते देखा है। तो, चूहों को बिल में प्रवेश करते देख, हमारे मन में यह विचार आया कि वे इतनी छोटी सी बिल में कैसे रहते हैं। लेकिन, दुनिया की कुछ ऐसी अजीब जगह (विचित्र स्थान) दुनिया में ऐसी जगहें हैं जहां लोग रहते हैं (दुनिया) चर्चा होती है। बर्फीली जगहों पर रहने वाले लोगों के घर अलग होते हैं।

लोग

उच्च वर्षा वाले क्षेत्रों में (उच्च वर्षा वाले क्षेत्र)इसकी रक्षा के लिए घर बनाए जाते हैं। उसी तरह रेगिस्तान में (रेगिस्तान) रहने वाले लोगों के घर हैं। लेकिन, दुनिया के एक देश में झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले बहुत कम लोग हैं। दूर से ही इस जगह के घर चूहों से भरे पड़े हैं (चूहा मांद) यह वैसा ही है। ऐसा ही एक घर मध्य ईरान के एक गांव में है। ईरान में कांडोवन नामक एक गाँव (कंडोवन गांव, ईरान) है, जहां लोगों के घरों की जगह तरह-तरह के बिल दिखाई देते हैं।

कंडोवन अलग क्यों है?


दुनिया के कई शहर अपनी खासियत के लिए मशहूर हैं। कुछ शहर अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध हैं, जबकि अन्य अपनी गर्मी या ठंडक के लिए जाने जाते हैं। कुछ जगहों की अजीबोगरीब परंपराएं हैं जो आपको हैरान कर देती हैं। कंडोवन गांव भी एक अलग गांव है। यहां के लोग ऐसे घरों में रहते हैं जो चूहे के बिल की तरह दिखते हैं। ऐसे घरों में लोग क्यों रहते हैं इसकी चर्चा हर जगह होती है।

ये घर देखने में अजीब लगते हैं लेकिन रहने में आरामदायक होते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक यह गांव 700 साल पुराना है। इन घरों की वजह से वहां के लोगों को कभी हीटर या एसी की जरूरत नहीं पड़ती। क्योंकि ये घर गर्मियों में ठंडे रहते हैं और ठंड में गर्मी देते हैं।

कंडोवन गांव का इतिहास

ऐतिहासिक रूप से, ईरानियों ने इसे मंगोल आक्रमणों से बचाने के लिए गांव का निर्माण किया था। मंगोल आक्रमण के शुरुआती दिनों में लोगों ने यहां शरण ली थी। मंगोलों के डर से स्थानीय लोगों ने ज्वालामुखीय चट्टानों में अपने घर खोदना शुरू कर दिया और वहीं बस गए। यही कारण है कि यह गांव प्रसिद्ध है।

सरकार ने ड्रोन उड़ाने के लिए लाए नए नियम

News Hindi TV

Latest hindi News Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *