बॉडी लैंग्वेज से समझा जा सकता है व्यक्तित्व

बॉडी लैंग्वेज से समझा जा सकता है व्यक्तित्व : Personality can be understood by body language

नए व्यक्ति से बात करना, या कैसे उसे समझा (बॉडी लैंग्वेज) जा सकता है? सिर्फ सुनने या देखने से ही लोग पूरी तरह से समझ नहीं पाते हैं! लेकिन 6 तरीके हैं जो आप उस व्यक्ति को समझा जा सकता है आये जानते है

बॉडी लैंग्वेज से समझा जा सकता है व्यक्तित्व
बॉडी लैंग्वेज

बॉडी लैंग्वेज या बॉडी लैंग्वेज शिष्टाचार एक ऐसी चीज है जिसे व्यक्ति के व्यक्तित्व (व्यक्तित्व) को देखकर आसानी से समझा जा सकता है। और लोग हमारे बारे में कैसे सोचते हैं इसका अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है आइए एक नजर डालते हैं कि कैसे वह शख्स बॉडी लैंग्वेज के जरिए हमारे प्रति अपने नजरिए को जाहिर कर रहा है

1. क्षमताएं और मूल्यांकन: Capabilities and Assessment

मान लीजिए हम कुछ कह रहे हैं अगर कोई वहां बैठा है और लगातार अपनी नाक के ऊपरी हिस्से को अपनी उंगली से थपथपा रहा है, तो यह समझना चाहिए कि वह हमें नकारात्मक तरीके से समझ रहा है। और अगर उनके कंधे उनकी पीठ के पीछे कड़े हैं, तो यह समझना चाहिए कि आदमी बहुत शक्तिशाली और बहादुर होता है।

2. निर्णय और आत्मविश्वास की कमी: Lack of Judgment and Confidence

फिर कभी आप ऐसे लोगों को नहीं देखेंगे जो बार-बार अपने कानों को छू रहे हों इसका क्या मतलब है? दरअसल, इसका मतलब है कि व्यक्ति फैसला नहीं कर सकता अनिर्णय से पीड़ित 6 एक बार फिर ऐसे कई लोग हैं जो सिर झुकाए किसी की तारीफ कर रहे हैं तब आपको यह समझना होगा कि वह व्यक्ति शर्मीला हो सकता है, या वह इतना आत्मविश्वासी नहीं है

3. रुचियां और कमजोरियां: Interests and Weaknesses

आप गौर करें तो कोई बात करते हुए सिर हिला रहा है जाहिर है, वह हमसे बात करना जारी रखना चाहते हैं हालांकि, यदि आप बहुत ज्यादा अपना सिर हिला रहे हैं, तो यह स्पष्ट है कि व्यक्ति को बातचीत जारी रखने में बिल्कुल भी दिलचस्पी नहीं है। लेकिन वह आमने-सामने नहीं कहते क्योंकि वह हमारी भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते हैं

अक्सर देखा जाता है कि बात करते समय कुछ लोगों के हाथ की हथेलियां ऊपर की ओर होती हैं, जिससे यह स्पष्ट होता है कि व्यक्ति काफी खुला हुआ है।

4. सम्मान और नियंत्रण: Respect and Control

कई ऐसे होते हैं जो बोलते समय दूसरों पर उंगली उठाते हैं इसे देखकर समझ लेना चाहिए कि उनके मन में विपरीत पक्ष के व्यक्ति के प्रति कोई सम्मान नहीं है और अगर कोई अपने हाथ की लहर से दूसरों से बात करता है, तो यह समझना चाहिए कि यह नियंत्रण का संकेत है

5. धैर्य और असहमति: Patience and Disagreement

कई लोग बात करते-करते अपनी गर्दन खुजलाते नजर आ रहे हैं तो समझ लेना चाहिए कि आदमी हमारी बात से सहमत नहीं है यदि आप कई बार नोटिस करते हैं, तो आप देख सकते हैं कि कोई आगे झुक रहा है और उसके हाथ उसके घुटनों पर हैं। तो समझ लेना चाहिए कि आदमी उस पल में उस जगह को छोड़ना चाहता है

6. विश्लेषण: Analysis

कई बार देखा जाता है, कुछ लोग बात करते-करते हमें आंखों में देख रहे होते हैं इस कारण हम असहज महसूस कर रहे हैं ऐसे में यह समझना मुश्किल नहीं है कि वह आदमी हमारे सामने पड़ा है जब हम दोबारा बोलते हैं तो यह ध्यान रखना जरूरी है कि कुछ लोग बिना पलक झपकाए हमें देख रहे हैं तो हमें यह मान लेना चाहिए कि वह व्यक्ति हमारा विश्लेषण कर रहा है।

महिला ने 2 महीने में बच्चे को जन्म दिया

News Hindi TV

Latest hindi News Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *