स्क्रीन टाइम बढ़ रहा है, साथ ही गर्दन का दर्द भी बढ़ सकता है

स्क्रीन टाइम बढ़ रहा है, साथ ही गर्दन का दर्द भी बढ़ सकता है |

आजकल मोबाइल फोन, कंप्यूटर, लैपटॉप – ये सब हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन गए हैं। इसका मुख्य कारण कोरोना महामारी के लिए वर्क फ्रॉम होम और ऑनलाइन क्लासेज हैं। सुबह ऑफिस या ऑनलाइन क्लास (स्क्रीन टाइम) के लिए आपको स्क्रीन के सामने बैठना होता है। और इसके परिणामस्वरूप गर्दन की विभिन्न समस्याएं (गर्दन दर्द) उत्पन्न हो रही हैं। स्क्रीन पर लगातार घूरने से गर्दन के आगे और पीछे के हिस्से पर अत्यधिक दबाव पड़ता है, जिससे कई तरह की समस्याएं होती हैं। गर्दन की मांसपेशियां मजबूत हो रही हैं, जिससे गर्दन के ऊपर और नीचे तेज दर्द हो रहा है। अगर इस दर्द को शुरू से नहीं देखा तो आपको स्पॉन्डिलाइटिस जैसी बीमारी हो सकती है। इसलिए अगर आपको गर्दन में दर्द है, तो आपको बिना लापरवाही के तुरंत डॉक्टर से सलाह लेने की जरूरत है।

स्क्रीन टाइम बढ़ रहा है, साथ ही गर्दन का दर्द भी बढ़ सकता है
गर्दन का दर्द

 

गर्दन का दर्द कैसे ठीक करें : How to Cure Neck Pain?

और इस तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए कुछ एक्सरसाइज भी हैं। लाइफस्टाइल कोच ल्यूक कॉटिन्हो ने फेसबुक पर इस तरह के गर्दन के दर्द का विवरण देते हुए एक वीडियो पोस्ट किया। उन्होंने वीडियो में कहा कि लोग लगातार एक स्क्रीन पर घूर रहे हैं, इसलिए उनकी गर्दन उसी स्थिति में है। और गर्दन को लगातार एक ही पोजीशन में रखने से ऐंठन, जकड़न, लो ब्लड प्रेशर, मांसपेशियों में ऐंठन आदि समस्याएं हो रही हैं। उन्होंने ऐसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए दो बहुत ही सरल व्यायामों का उल्लेख किया है। लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि अगर आपको स्पॉन्डिलाइटिस जैसी बीमारी है, तो आपको ऐसा कोई भी व्यायाम करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेने की जरूरत है। उन दो अभ्यासों को कैसे करें, इस पर एक नज़र डालें।

अभ्यास 1:

सबसे पहले बाएं हाथ को दाहिने कंधे पर रखना चाहिए। इसे करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कंधे हिलें नहीं। फिर सिर को दाहिने कंधे की ओर मोड़ना चाहिए। उस स्थिति में कुछ पल होना चाहिए। इस तरह दाहिने हाथ को बाएं कंधे पर भी इसी तरह से दोहराना चाहिए। और इस एक्‍सरसाइज को करते समय आपको इस बात का ध्‍यान रखना होगा कि आपके कंधे ज्‍यादा न हिलें।

व्यायाम 2 :

सबसे पहले आपको अपने हाथों को अपने कंधों के पीछे एक साथ पकड़ना है। इस तरह सिर को थोड़ा ऊपर उठाना चाहिए। फिर अपने बाइसेप्स, कंधों, पीठ के ऊपरी हिस्से और छाती को जितना हो सके स्ट्रेच करें। जबकि इस अवस्था में आपको 1 से 10 तक गिनना होता है। अगर आप इस तरह से इस एक्सरसाइज को नियमित रूप से कर सकते हैं तो आपको गर्दन के दर्द से काफी राहत मिलेगी।

बॉडी लैंग्वेज से समझा जा सकता है व्यक्तित्व

News Hindi TV

Latest hindi News Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *